AMRUT Yojana – Future, Benefit, Budget, AMRUT City List in Hindi

By | October 6, 2017

Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation – Future, Benefit, AMRUT City List

Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation (AMRUT) Details

Name of Yojana

Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation (AMRUT)

Organized by

Central Government of India

Launched By

PM Narendra Modi

Launched On

24th June 2015

Motive:

The project of rejuvenating the towns will be audited regularly in every field. Electricity bill, water bill, house tax, etc. All facilities will be ensured through e-governance.

Project Working Till

2022

Benefit

Cities and towns have electricity, water, home, shopping, hospital, high speed internet, transport, employment, bank, school, playground etc.

Budget

50,000 Crore

Number of Cities & Town

100

Official Site

www.amrut.gov.in

The specialty of 100 cities and towns will these futures:

·         Will apply to mountainous terrain and islands

·         Where the scope of tourism is high.

·         Roads, schools, hospitals, playgrounds etc. will be created.

·         Water supply,

·         Sewerage management

·         To reduce the flood, rainwater drains,

·         Walking routes, non-motorized and public transport facilities, parking lots

·         Increasing the grandeur of cities by creating and upgrading green spots and parks and recreation centers, especially for children.

Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation (AMRUT) Yojana – Introduction

Prime Minister Narendra Modi launched the project of “Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation (AMRUT)” on April 29, 2015 to build 100 smart cities. By this scheme, by 2022, these cities will be utilizing the outlay of Rs. 50,000 crores to create smart cities.

“Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation” The scheme was started with the focus of urban renewal projects. Its purpose is to establish infrastructure which can ensure adequate sewage network and water supply for urban changes. Under this plan, taking a special focus on the healthy and green environment, has resolved to convert 500 cities and towns into skilled urban living areas. Rajasthan is the first state in the country to present state annual work plan under the Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation (AMRUT).

AMRUT Yojana Launched by PM Modi प्रधानमंत्री अमृत योजना

“Rejuvenation and Urban Transformation” This scheme started with the focus of urban renewal projects. Its purpose is to establish infrastructure which can ensure adequate sewage network and water supply for urban changes. Under this plan, taking a special focus on the healthy and green environment, has resolved to convert 500 cities and towns into skilled urban living areas. Through this scheme, all selected cities and towns will be made smart cities by 2022. Very few things will be expanded in this scheme such as local dishes, health, education, arts and crafts, culture, sports goods, furniture, hosiery, textiles, dairy etc.

Under this, providing an identity in the city based on the main economic activities, implementing Smart Solution, for example, areas are less vulnerable for disasters, using less resources and providing cheap services etc.

Expansion of housing opportunities for all, construction of running areas, reduce air pollution and resource depletion, promote local economy, promote dialogue, build roads and ensure safety. The road network has been built not only for vehicles and public transport but also for pedestrians and cyclists, and necessary administrative services are provided either within walking or cycling distance.

अमृत योजना हिंदी में: AMRUT Yojana in Hindi

राजस्थान राज्य देश का पहला राज्य हैं जो कायाकल्प और शहरी परिवर्तन (एएमआरयूटी) के लिए अटल मिशन के अंतर्गत राज्य वार्षिक कार्य योजना प्रस्तुत करता है। योजना 2022 तक सभी के लिए हाउसिंग और कायाकल्प और शहरी परिवर्तन (एएमआरयूटी) के लिए अटल मिशन उसी दिन शुरू की गई थी। यह योजना सार्वजनिक निजी भागीदारी मॉडल (पीपीपी) मॉडल के जरिये काम करेगी। पीपीपी मॉडल के जरिये स्वच्छ भारत मिशन जैसी सभी योजनाएं, सभी के लिए हाउसिंग, साथ ही पानी की आपूर्ति और सीवरेज और अन्य बुनियादी सुविधाओं से संबंधित योजनाओं जैसे स्थानीय राज्य योजनाओं के साथ AMRUT से जोड़ा जा सकता है।

अमृत योजना की महत्वपूर्ण विशेषताएं Features of the AMRUT Scheme: 

  • कस्बों और शहरों का कायाकल्प करने वाली इस परियोजना का हर क्षेत्र में नियमित रूप से ऑडिट किया जायेगा।
  • बिजली का बिल, पानी का बिल, हाउस टैक्स, आदि सभी सुविधाएं ई-गवर्नेन्स के माध्यम से सुनिश्च‍ित की जायेंगी।
  • जो राज्य बेहतर ढंग से इस परियोजना को आगे बढ़ायेंगे उनके लिये बजट में 10 प्रतिशत तक का अधिक अवंटन किया जायेगा।
  • यह योजना उसी कस्बे में लागू होगी, जहां की जनसंख्या एक लाख से अधिक है।
  • उन छोटे शहरों में भी लागू होगी, जहां से छोटी-छोटी नदियां गुजरती हैं।
  • उन पहाड़ी इलाकों व द्वीपों पर लागू होगी, जहां पर्यटन का स्कोप ज्यादा है।
  • इस योजना के लिए जिन राज्यों की सरकारें इसे अच्छे ढंग से आगे बढ़ायेंगी उनके लिये बजट आवंटन भी बढ़ा दिया जायेगा।
  • अमृत योजना के अंतर्गत वो परियोजनाएं भी आयेंगी, जो जेएनएनयूआरएम के अंतर्गत अधूरी रह गईं।
  • अमृत के अधीन आने वाली जेएनएनयूआरएम की अधूरी परियोजनाओं को 2017 तक पूरा किया जायेगा।

किन 500 शहरों और कस्बो को कवर किया जायेगा:

  • छावनी बोर्ड (सिविलयन क्षेत्र)/ अधिसूचित नगरपालिकाओं सहित एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले सभी शहर और कस्बे
  • स्मार्ट सिटी में शामिल नहीं किये गए सभी राजधानी शहर/राज्यों के कस्बे/संघ राज्य क्षेत्र
  • हृदय स्कीम के अंतर्गत शहरी विकास मंत्रालय के द्वारा विरासत वर्गीकृत सभी शहर/कस्बे,
  • 75000 से अधिक और 1 लाख से कम जनसंख्या वाले 13 शहरों और कस्बों जो मुख्य नदियों के किनारे पर हैं और, पर्वतीय राज्यों, द्वीप समूहों और पर्यटन स्थलों से दस शहर (प्रत्येक राज्य) से एक से अधिक शहर नहीं)

अमृत योजना के प्रमुख घटक:

  • जलापूर्ति
  • सीवरेज
  • सेफ्टेज
  • वर्षा जल निकासी
  • शहरी परिवहन
  • हरित स्थल और पार्क
  • सुधार प्रबंधन और सहायता
  • क्षमता निर्माण
  • परियोजनाओं अथवा परियोजना सम्बन्धित कार्यों के लिए भूमि की खरीद
  • राज्य सरकारों/शहरी स्थानीय निकायों दोनों के लिए स्टाफ के वेतन
  • विद्युत
  • दूरसंचार
  • स्वास्थ्य
  • शिक्षा
  • मजदूरी रोजगार कार्यक्रम और स्टाफ घटक

About Page: 

You can get information about several types of Prime Minister schemes in our country from our page like Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana (PMSBY)Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (PMJDY)Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana (PMKVY)Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana (Saubhagya Yojana), Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana (PMGSY)Pradhan Mantri Garib Kalyan YojanaPradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY)Pradhan Mantri Gramodaya Yojana (PMGY)Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana (PMKSY)Pradhan Mantri Rozgar Yojana PMRPYWe have not made any impact on our plans. Even if you have to ask something about it, then you will be able to solve your problems as soon as possible by giving your question in the comment box below.

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना
प्रधान मंत्री आवास योजना प्रधान मंत्री मुद्रा योजनाप्रधान मंत्री रोजगार योजना
प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना प्रधान मंत्री जन धन योजना प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना
प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजनाप्रधान मंत्री ग्रामोदय योजना
प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजनाशादी शगुन योजना - मुस्लिम लड़कियों
भीम आधार ऐप्प डाउनलोडप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजनाप्रधान मंत्री वय वंदना योजना
ग्रामीण परिवारों के लिए ऋण योजना सब्सिडी भारत के वीर - शहीदों के लिए मदद लघु पावरलूम इकाई के लिए सौर ऊर्जा योजना
प्रधानमंत्री आवास योजना हिंदी प्रधान मंत्री शहरी आवास योजना प्रधानमंत्री आवास योजना – ऑनलाइन आवेदन कैसे करें
प्रधान मंत्री एलपीजी पंचायत राष्ट्रीय पेंशन योजना मध्यान्ह भोजन योजना
ह्रदय (HRIDAY) योजना जननी सुरक्षा योजना डिजिटल इंडिया प्रोग्राम
किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना INSPIRE योजना दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना
अटल पेंशन योजना
प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि योजनाअंत्योदय अन्न योजना
सुकन्या समृद्धि योजना
स्टैंड अप इंडिया योजना
वन रैंक-वन पेंशन
प्रधानमंत्री अमृत योजना
राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
दीनदयाल विकलांग पुनर्वास योजना
कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय योजनासांसद आदर्श ग्राम योजना
राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना
राष्ट्रीय कृषि विकास योजनामहात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनासम्पूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना
स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजनाबेटी बच्चों, बेटी पढ़ाओएकीकृत बाल विकास सेवाएं (ICDS)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *