One Rank One Pension Yojana OROP Scheme वन रैंक-वन पेंशन News

By | November 3, 2017

One Rank One Pension Yojana in Hindi, One Rank One Pension Yojana Explained, One Rank One Pension Scheme Chart, Latest News, Latest News in Hindi

जानिए वन रैंक-वन पेंशन के बारे में, किसको और कितनी मिलेगी पेंशन:

वन रैंक वन पेंशनका मतलब है कि सेवानिवृत्त सैनिकों को सेवानिवृत्ति पर अब समान पेंशन प्राप्त होगी। देश में हर साल करीब 65,000 फौजी रिटायर होते हैं और एक अनुमान के मुताबिक अभी देश में 25 लाख एक्स सर्विसमेन हैं।

One Rank One Pension Scheme (वन रैंक-वन पेंशन)

Name of Yojana

One Rank One Pension

Organized by

Central Government of India

Launched By

PM Narendra Modi

Launched On

05th September 2017

Motive:

Equal-rank officers retiring from armed forces have a similar pension, even if they have retired at any time. That is, the colonel retired in 1980 and the Colonel who retires today will get a similar pension.

Apply From

July 2014

Announcement to be given in Array 4 instalments

5 years of pension leave

Benefit

Colonel retired in old pay commission and today retire gets a similar pension

Budget

1000 Crore

Old Army Officer

More than 25 Lakh

Official Site

www.desw.gov.in/orop

All of these are taking advantage of One Rank-One Pension Scheme:

·         Judges of the Supreme Court and High Court

·         All Cabinet Secretaries, Chief Secretaries, Secretaries

·         All MPs All General, Lieutenant General Honourable

·         The Supreme Court has now accepted this for Major General too.

What is One Rank One Pension (OROP)?

‘One rank one pension’ is a scheme for a former soldier, which means giving equal pay to two soldiers of one rank retired at different times. People who retire currently get a pension according to the rules of their retirement. That is, those who have retired 25 years ago are getting pension according to the calculation and salary commission which is very less.

‘One Rank One Pension Yojana’ Mathematics Calculation:-

Suppose the Major General’s pension retired before 2006 is Rs 30,300, whereas today if a colonel retires, he will receive a pension of 34,000 rupees. Whereas two ranks higher than Major General Colonel, then how will they get pension less than the Colonel? With this scheme, now more than 2.5 million soldiers of the country will benefit. Those who have retired will get Arrears. About 1.4 lakh soldiers and officers are part of the army.

क्या है वन रैंक वन पेंशन का इतिहास?

  1. वन रैंक वन पेंशन 1973 से सेना में लागु थी, उन्हें आम लोगों से ज्यादा वेतन मिलता था।
  2. 1973 में आए तीसरे वेतन आयोग ने सशस्त्र बलों का वेतन आम लोगों के बराबर कर दिया।
  3. सितंबर 2009 में सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को वन रैंक वन पेंशन पर आगे बढ़ने का आदेश दिया।
  4. मई 2010 में सेना पर बनी स्थाई समिति ने वन रैंक वन पेंशन लागू करने की सिफारिश की।
  5. सितंबर 2013 – बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी वन रैंक वन पेंशन लागू करने का वादा किया।
  6. फरवरी 2014 – यूपीए सरकार ने इसे लागू करने का फैसला किया और इसके लिए 500 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया।
  7. जुलाई 2014 – मोदी सरकार ने बजट में वन रैंक वन पेंशन का मुद्दा उठाया और इसके लिए अलग से 1000 करोड़ रुपए रखने की बात की।
  8. फरवरी 2015 – सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को तीन महीने के अंदर वन रैंक वन पेंशन लागू करने को कहा।
  9. जुलाई 2014 से सरकार ने इसे लागु करने का प्रेस नोट निकाला।

Click Here – Official Site

Budget for One Rank One Pension (OROP):

The Narendra Modi government has passed a budget of 1000 crore separately for One Rank One Pension (OROP). These budgets are for retired soldiers only.

What is the status abroad?

Country Name More Than To Common Services
America (USA) 15-20%
England (UK) 10%
France 15%
Pakistan 10-15%
Japan 19-29%

वन रैंक वन पेंशनके कुछ फैसले:

  • सरकार ने वन रैंक वन पेंशन लागु करने का फैसला लिया।
  • जुलाई 2014 से वन रैंक वन पेंशन लागु।
  • वन रैंक वन पेंशन का एरियर 4 किस्तों में दिया जायेगा।
  • पेंशन रेविसन की अवधि सरकार ने 5 वर्ष राखी
  • VRS/ पूर्व रिटायरमेंट लेने वाले सैनिकों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।
  • सैनिकों की विधवाओं को एक मुश्त पैसा दिया जायेगा।

Benefit of One Rank One Pension वन रैंक वन पेंशन के फायदे:

  • रिटायर्ड सैनिकों और नए सैनिकों को समान पेंशन।
  • अगर किसी अधिकारी की मृत्यु हो जाती हैं तो उसके परिजनों को 30% की जगह 60% पेंशन दी जाएगी।
  • इस योजना के अनुसार जो लोग सीवीएल सर्विसेज में हैं वे भी इस योजना का लाभ लेते हुए दोनों और से पेंशन ले सकते हैं।

About Page: 

You can get information about several types of Prime Minister schemes in our country from our page like Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana (PMSBY)Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (PMJDY)Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana (PMKVY)Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana (Saubhagya Yojana)Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana (PMGSY)Pradhan Mantri Garib Kalyan YojanaPradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY)Pradhan Mantri Gramodaya Yojana (PMGY)Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana (PMKSY)Pradhan Mantri Rozgar Yojana PMRPYWe have not made any impact on our plans. Even if you have to ask something about it, then you will be able to solve your problems as soon as possible by giving your question in the comment box below.

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना
प्रधान मंत्री आवास योजना प्रधान मंत्री मुद्रा योजनाप्रधान मंत्री रोजगार योजना
प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना प्रधान मंत्री जन धन योजना प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना
प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजनाप्रधान मंत्री ग्रामोदय योजना
प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजनाशादी शगुन योजना - मुस्लिम लड़कियों
भीम आधार ऐप्प डाउनलोडप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजनाप्रधान मंत्री वय वंदना योजना
ग्रामीण परिवारों के लिए ऋण योजना सब्सिडी भारत के वीर - शहीदों के लिए मदद लघु पावरलूम इकाई के लिए सौर ऊर्जा योजना
प्रधानमंत्री आवास योजना हिंदी प्रधान मंत्री शहरी आवास योजना प्रधानमंत्री आवास योजना – ऑनलाइन आवेदन कैसे करें
प्रधान मंत्री एलपीजी पंचायत राष्ट्रीय पेंशन योजना मध्यान्ह भोजन योजना
ह्रदय (HRIDAY) योजना जननी सुरक्षा योजना डिजिटल इंडिया प्रोग्राम
किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना INSPIRE योजना दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना
अटल पेंशन योजना
प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि योजनाअंत्योदय अन्न योजना
सुकन्या समृद्धि योजना
स्टैंड अप इंडिया योजना
वन रैंक-वन पेंशन
प्रधानमंत्री अमृत योजना
राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
दीनदयाल विकलांग पुनर्वास योजना
कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय योजनासांसद आदर्श ग्राम योजना
राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना
राष्ट्रीय कृषि विकास योजनामहात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनासम्पूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना
स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजनाबेटी बच्चों, बेटी पढ़ाओएकीकृत बाल विकास सेवाएं (ICDS)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *