Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana (SGSY) Scheme, Benefit, Features एस.जी.एस.वाई

By | October 9, 2017

Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana (SGSY) स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना

Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana (SGSY)

Name of Yojana/ Scheme

Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana (SGSY)

Powered By

Central Government of India

Launched By

PM Atal Bihari Vajpayee

Launched on

01st April 1999

SGSY Yojana Motive

The objective of the scheme is to organize them as self-help groups through the provision of social solidarity, training, capacity building and income generating resources by helping people living below the poverty line.

Who can take advantage of it?

1.       गरीब परिवारों को गरीबी रखा से ऊपर लाना

2.       आय वर्द्धि कार्यक्रम द्वारा सम्पति का उपयोग करना

3.       बैंक से ऋण और सरकारी अनुदान प्रदान करना

4.       गरीब और सहायता प्राप्त परिवारों की प्रति महीना कम से कम  2000/- रुपए की आय प्रति महीने प्रारम्भ

लक्ष्य: हर एक क्षेत्र में 30% (50% SC/ ST  ) गरीबो परिवारों को 5 वर्ष के अंतर्गत गरीबी रेखा से ऊपर ले जाना हैं।

Govt will Donate Interest for BPL

Unreserved/ OBC Family: 30% Interest – Rs. 7500/-

SC/ ST: 50% Interest – Rs. 10000/-

Premium Divided

Central Government: 75%

State Level Government: 25%

Fund/ Insurance

Maximum limit of 1.25 lakhs or 10,000 rupees per person

Loan payment term:

First: 5 years

Second: 7 years

Tertiary: 9 years

स्वरोजगार योजना के तहत वित्तीय सहायता देने वाले बैंक:

1.       व्यवसायिक बैंक

2.       सहकारी बैंक

3.       क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक

Official Site

www.sgsy.gov.in

——————————————————————————————–

What is Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana (SGSY)? – Introduction

The aim of the SGSY Scheme is to organize them as self-help groups through the organization of resources, conservation, solidarity, capacity building and income generating resources of the rural people who are living below the poverty line. This work is done through bank loan and government subsidy. This plan focuses on the establishment of an activity group through selected main activities on the basis of people’s attitude (interests) and skills, availability of resources and market potential.

Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana is a scheme run by the central government which is distributed in the central government and state government, respectively in the division of 75:25 percent. This scheme made milakar together with 6 schemes (Integrated Rural Development Scheme, one million wells, rural women and child development programs, training programs for self-employment of rural youth, and rural artisans have been made to meet the needs of advanced equipment.)

——————————————————————————————–

Swarnajayanti Gram Swarozgar Yojana in Hindi स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना का उद्देश्य गरीबी रेखा से निचे जीवनयापन कर रहे ग्रामीण लोगों की मदद समूहों का संगठन, प्रक्षिक्षण,  एकजुटता, क्षमता निर्माण और आमदनी देने वाले संसाधनों की व्यवस्था के जरिए उन्हें स्वयं-सहायता समूहों के रूप में संगठित करना है। यह योजना पूर्व में संचालित 6 योजनाओं (समेकित ग्रामीण विकास योजना, दस लाख कुंआ, ग्रामीण महिला एवं शिशु विकाश कार्यक्रम, ग्रामीण युवाओं के स्वनियोजन के लिए प्रक्षिक्षण कार्यक्रम, और ग्रामीण कारीगरों को उन्नत किस्म के औजारों की पूर्ती को एक साथ मिलकर बनायीं गयी हैं।)

इस योजना का यह कार्य बैंक ऋण और सरकारी सब्सिडी के जरिए किया जाता है। लोगों की अभिवृत्ति (रूचि) और कौशल, संसाधनों की उपलब्धता और बाजार की संभाव्यता के आधार पर चुने हुए मुख्य कार्यकलापों के द्वारा कार्यकलाप समूह की स्थापना पर यह योजना ध्यान देती है। योजना केंद्र सरकार और राज्य सरकार में क्रमश: 75:25 प्रतिशत के भाग में बांटी गयी हैं।

——————————————————————————————–

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना का लक्ष्य: हर एक क्षेत्र में 30% (50% SC/ ST) गरीबो परिवारों को 5 वर्ष के अंतर्गत गरीबी रेखा से ऊपर ले जाना हैं। इसके लिए सरकार उन्हें प्रति व्यक्ति 7500 रुपए का लोन देगी जिसकी अवधि 5 वर्ष, 7 वर्ष और 9 वर्ष हैं।

——————————————————————————————–

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना (SGSY) का उद्देश्य:

  1. गरीब परिवारों को गरीबी रेखा से ऊपर लाना।
  2. आय वर्द्धि कार्यक्रम द्वारा सम्पति का उपयोग करना।
  3. बैंक से ऋण और सरकारी अनुदान प्रदान करना।
  4. गरीब और सहायता प्राप्त परिवारों की प्रति महीना कम से कम 2000/- रुपए की आय प्रति महीने प्रारम्भ।

——————————————————————————————–

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की विशेषताएं:

  1. ग्रामीण क्षेत्रों में छोटे उद्योगों को आगे बढ़ने के लिए पर्याप्त साधन उपलब्ध करवाना।
  2. इस वयक्ति को सहायता दी जाएगी उसे स्वरोजगार कहा जायेगा
  3. ३ वर्ष में सहायता प्राप्त करने वाले व्यक्ति को गरीबी रेखा से ऊपर उठाना हैं
  4. इस योजना के लिए गरीबी रेखा से निचे के लोगो को संगठित करना, समता विकाश, व्यवसायों का चुनाव, कार्यान्वयन, तकनीकी, ऋण आदि का प्रबंध करना।
  5. इस योजना के लिए व्यवसायिक बैंक, सहकारी बैंक और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक लोन उपलब्ध करवाएगी।
  6. यह योजना ऋण सह अनुदान कार्यक्रम हैं।
  7. यह योजना जिनके लिए ऋण स्वीकृत किया हैं उसका दक्षता विकास के लिए परिक्षण पर जोर दिया जायेगा, इसके लिए जिला एजेंसी को बजट 10% परिक्षण (इसे SGSY परिक्षण कोष कहते हैं) के लिए सौंपा जाता हैं।
  8. इसके तहत उत्पादित की हुई वस्तुओं का बाजार उपलब्ध करवाया जायेगा।
  9. योजना के तहत अनुदान 30% तक होगा जो अधिकतम 7500/- रुपए होगा। SC/ST के लिए अनुदान 50% तक होगा जिसकी अधिकत सिमा 10000/- रुपए तक होगी। इस योजना के लिए यह कुल लागत के आधार पर 1.25 लाख रुपए तक हो सकता हैं। इसके सिंचाई परियोजना के लिए अनुदान की कोई सिमा नहीं हैं।
  10. इस योजना के अंतर्गत निर्धनता परिवार सबसे पहले लक्षित होंगे जो अनुसूचित जनजाति स्वरोजगार 50%, महिलाएं 40%, विकलांग 3% के अनुपात में लाभन्त्वित हैं।

Click Here – SGSY Official Site

——————————————————————————————–

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में केंद्र सरकार और राज्य सरकार की हिसेदारी:

  1. इस योजना में केंद्र सरकार की हिसेदारी: 75% हैं ।
  2. राज्य सरकार की 25% हिसेदारी हैं।

इस योजना के लिए सदस्यों की भू-भाग और भौतिक क्षमताओं के आधार पर बनाए गए स्व-सहायता समूह (एसएचजी) की संख्या में भिन्न-भिन्न सदस्य हो सकते हैं। यह निर्माण के तीन चरणों के माध्यम से चला जाता है:

  1. समूह गठन
  2. परिक्रामी निधि और कौशल विकास के माध्यम से पूंजी निर्माण और
  3. कौशल निर्माण के लिए आर्थिक गतिविधियों को उठाना।

——————————————————————————————–

Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana Goal

The goals of Swarna Jayanti Gram Swarozgar Yojana are to raise the poverty line from above poverty line. Under this scheme, the subsidy is given at the rate of 30 percent of the total project cost but its ceiling is Rs. 7,500 (for Scheduled Castes / Scheduled Tribes and Handicapped The limit has been fixed at 50 per cent, which is maximum Rs 10,000), which is enough to raise them above the poverty line. Self-help groups are given subsidy of up to 50% of the project cost whose maximum limit is 1.25 lakh or Rs. 10,000 per person, whichever is less. No maximum limit has been set for subsidies for small irrigation projects, self-help groups and self-employment.

About Page: 

You can get information about several types of Prime Minister schemes in our country from our page like Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana (PMSBY)Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (PMJDY)Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana (PMKVY)Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana (Saubhagya Yojana)Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana (PMGSY)Pradhan Mantri Garib Kalyan YojanaPradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY)Pradhan Mantri Gramodaya Yojana (PMGY)Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana (PMKSY)Pradhan Mantri Rozgar Yojana PMRPYWe have not made any impact on our plans. Even if you have to ask something about it, then you will be able to solve your problems as soon as possible by giving your question in the comment box below.

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना
प्रधान मंत्री आवास योजना प्रधान मंत्री मुद्रा योजनाप्रधान मंत्री रोजगार योजना
प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना प्रधान मंत्री जन धन योजना प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना
प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजनाप्रधान मंत्री ग्रामोदय योजना
प्रधान मंत्री ग्राम सड़क योजना प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजनाशादी शगुन योजना - मुस्लिम लड़कियों
भीम आधार ऐप्प डाउनलोडप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजनाप्रधान मंत्री वय वंदना योजना
ग्रामीण परिवारों के लिए ऋण योजना सब्सिडी भारत के वीर - शहीदों के लिए मदद लघु पावरलूम इकाई के लिए सौर ऊर्जा योजना
प्रधानमंत्री आवास योजना हिंदी प्रधान मंत्री शहरी आवास योजना प्रधानमंत्री आवास योजना – ऑनलाइन आवेदन कैसे करें
प्रधान मंत्री एलपीजी पंचायत राष्ट्रीय पेंशन योजना मध्यान्ह भोजन योजना
ह्रदय (HRIDAY) योजना जननी सुरक्षा योजना डिजिटल इंडिया प्रोग्राम
किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना INSPIRE योजना दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना
अटल पेंशन योजना
प्रधानमंत्री भारतीय जन औषधि योजनाअंत्योदय अन्न योजना
सुकन्या समृद्धि योजना
स्टैंड अप इंडिया योजना
वन रैंक-वन पेंशन
प्रधानमंत्री अमृत योजना
राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
दीनदयाल विकलांग पुनर्वास योजना
कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय योजनासांसद आदर्श ग्राम योजना
राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना
राष्ट्रीय कृषि विकास योजनामहात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनासम्पूर्ण ग्रामीण रोजगार योजना
स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजनाबेटी बच्चों, बेटी पढ़ाओएकीकृत बाल विकास सेवाएं (ICDS)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *